राष्ट्रीय
समाचार ब्यूरो
देवेंद्र फडणवीस का सीएम पद से इस्तीफा, कहा-ढाई साल के कार्यकाल पर कोई चर्चा नहीं हुई
Total views 8
महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फणनवीस राज्‍यपाल भगत सिंह कोश्‍यरी से मिलने पहुंचे।

महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फणनवीस शुक्रवार को राज्‍यपाल भगत सिंह कोश्‍यरी से मिलने पहुंचे।  उन्‍होंने राज्‍यपाल को अपना इस्‍तीफा सौंप दिया है। विधानसभा का कार्यकाल आज पूरा हो गया। अब राज्‍य में राष्‍ट्रपति शासन के आसार बढ़ गए हैं।  वह प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित कर रहे हैं।उन्‍होंने कहा कि मैंने राज्‍यपाल को अपना इस्‍तीफा सौंप दिया है और राज्‍यपाल ने मेरा इस्‍तीफा स्‍वीकार कर लिया है। मैं महाराष्‍ट्र की जनता का बड़ा आभार मानता हूं। साथ ही सभी सहयोगी पार्टियों का भी आभार है। पांच साल में मेरी सरकार ने काफी विकास किया। राज्‍य में पारर्दिशता के साथ सरकार चलाने की कोशिश की। यही कारण है कि चुनावों में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनी। राज्‍य में भाजपा का स्‍ट्राइक रेट 70 फीसदी रहा। राज्‍य में सरकार बनाने के लिए सभी विकल्‍प खुले हुए हैं। यहां महायुति को सरकार बनाने का बहुमत मिला है। उन्‍होंने कहा कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह के साथ बैठक में सीएम के 2.5-2.5 साल के कार्यकाल पर कोई वादा नहीं किया। अमित शाह ने भी इसका खंडन किया। मेरे सामने भी कभी 2.5-2.5 साल के कार्यकाल पर कोई चर्चा नहीं हुई। उद्धव ठाकरे ने पहले सरकार बनाने की बात की थी। नतीजे आते ही मैंने उद्धव और शिवसेना को शुक्रिया कहा था। हमने उद्धव के खिलाफ एक भी विरोधी बयान नहीं दिया। बातचीत कर कोई भी विवाद सुलझाया जा सकता है। 2.5 साल का मुख्‍यमंत्री फॉर्मुला शिवसेना के लिए बहाना है। चुनाव के नतीजे आने के बाद उद्धव ठाकरे के करीबी लगातार बेवजह की बयानबाजी कर रहे हैं। फणनवीस ने कहा कि कांग्रेस के विधायकों के खरीद-फरोख्‍त के आरोप निराधार