राज्य
समाचार ब्यूरो
राजस्थान में आंधी बरसात से जनजीवन अस्त व्यस्त
Total views 16
पाली और श्रीगंगानगर में आंधी-बारिश और ओलावृष्टि की चेतावनी दी है।

 राजस्थान में मौसम में आये बदलाव और आंधी बरसात के कारण शुक्रवार को कई जगह पेड़ उखड़ गये तथा टीन टप्पर उडऩे से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया जबकि तापमान में आई गिरावट से लोगों को गर्मी से राहत मिली है। 
दोपहर बाद जयपुर में आंधी के बाद बूंदाबांदी हुई, जबकि बीकानेर, नागौर एवं जोधपुर में भी आंधी के बाद बरसात के समाचार मिले हैं। राजस्थान में पिछले तीन दिन से आंधी और बरसात का दौर जारी है। कुछ स्थानों पर ओलावृष्टि के भी समाचार हैं। गंंगानगर में बारिश से अनाज मंडी में बिक्री के लिये रखा गेंहूं भीगने से किसानों को नुकसान हुआ है। 
नागौर जिले में दोपहर बाद तेज आंधी एवं बरसात से कई जगह बिजली के खंभे टूट गये। कई पेड़ उखड़ गए और दुकानों के बाहर लगे टीन-टप्पर, होर्डिंग बोर्ड उडऩे से काफी नुकसान हुआ है। मौसम विभाग ने पूर्वी राजस्थान के अजमेर, अलवर, भरतपुर, भीलवाड़ा, बूंदी, चित्तौडग़ढ़, दौसा, जयपुर, झुंझुनूं, कोटा, प्रतापगढ़, राजसमंद, सीकर, सिरोही, टोंक, उदयपुर और पश्चिमी राजस्थान के बाड़मेर, बीकानेर, चूरू, हनुमानगढ़, जैसलमेर, जालौर, नागौर, पाली और श्रीगंगानगर में आंधी-बारिश और ओलावृष्टि की चेतावनी दी है।