राष्ट्रीय
समाचार ब्यूरो
19 मई को नहीं बदलेगा वोटिंग का समय, SC ने खारिज की याचिका
Total views 51
याचिकाकर्ताओं का कहना था कि इस संबंध में निर्वाचन आयोग को ज्ञापन दिया था।

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को वह याचिका खारिज कर दी जिसमें आग्रह किया गया था कि चुनाव आयोग को लोकसभा चुनाव के सातवें चरण के लिए मतदान सुबह सात बजे की जगह सुबह साढ़े पांच बजे शुरू करने का निर्देश दिया जाना चाहिए। यह याचिका सुप्रीम कोर्ट की अवकाश पीठ ने खारिज की है। इस मामले में पिछली सुनवाई दो मई को हुई थी तब सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से कहा था कि वह लोकसभा के शेष चरणों का मतदान शुरू करने का समय सवेरे पांच बजे करने के बारे में निर्णय ले। सुप्रीम कोर्ट ने प्रचंड गर्मी और रमजान को ध्यान में रखते हुये चुनाव आयोग को यह निर्देश दिया है।  सुप्रीम कोर्ट के प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता और न्यायमूर्ति संजीव खन्ना की पीठ के समक्ष अधिवक्ता मोहम्मद निजामुद्दीन पाशा और असद हयात की याचिकाओं पर शीघ्र सुनवाई का अनुरोध किया गया था। पीठ ने निर्वाचन आयोग के लिये पेश अधिवक्ता से कहा कि इस मसले पर निर्णय लिया जाए। याचिकाकर्ताओं का कहना था कि इस संबंध में निर्वाचन आयोग को ज्ञापन दिया था। परंतु उसने अभी तक इसका कोई जवाब नहीं दिया है। याचिकाकर्ताओं ने देश के कई हिस्सों में प्रचंड गर्मी और इसी बीच रमजान के त्यौहार के मद्देनजर लोकसभा के चुनाव के सातवें चरण के लिये मतदान का समय सवेरे साढ़े चार या पांच बजे करने का निर्देश निर्वाचन आयोग को देने का अनुरोध अपनी याचिका में किया था। इस बार लोकसभा के चुनाव सात चरणों में हो रहे हैं. अब तक तीन चरणों का चुनाव हो चुका है। आखिरी चरण के चुनाव 19 मई को होने वाले हैं। 23 मई को चुनाव के नतीजे आएंगे।