अपराध
समाचार ब्यूरो
पति के सामने सामूहिक दुष्कर्म कर बनाया वीडियो, पुलिस ने चुनाव की वजह से छिपाई वारदात
Total views 40
चुनाव की वजह से मामला चार दिन तक छिपाए रखने पर थानेदार सरदार सिंह ने कहा कि महिला अनुसूचित जाति-जनजाति से है इसी लिए इसे किसी को बताया नहीं गया।

राजस्थान से सामूहिक दुष्कर्म के आरोपी और पुलिस की घिनौनी तस्वीर सामने आई है। पांच लोगों ने मिलकर एक महिला से उसके पति के सामने सामूहिक दुष्कर्म किया और पुलिस ने चुनाव की वजह से मामले को चार दिन तक दबाए रखा। मामला अलवर जिले के थानागाजी इलाके का है जहां पर एक पति के सामने उसकी पत्नी की इज्जत से खिलवाड़ किया गया। आरोपियों ने दिल दहला देने वाली इस करतूत की वीडियो बना ली जो बाद में सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। पीड़िता ने पुलिस से शिकायत में बताया कि वह 26 अप्रैल को दोपहर 3 बजे पति के साथ बाइक से गांव लालवाड़ी से तालवृक्ष जा रही थी। थानागाजी-अलवर बाईपास रोड पर दुहार चौगान वाले रास्ते से कुछ ही दूरी पर उनकी बाइक के आगे 5 युवकों ने अपनी 2 बाइक लगा दीं और रोक लिया। युवकों की उम्र 20-25 साल थी। पीड़िता ने बताया, उन पांचों ने उसके पति से पहले मारपीट की, फिर बंधक बना लिया। बाद में पांचों युवकों ने महिला से पति के सामने सामूहिक दुष्कर्म किया।  एसपी राजीव पंचार ने कहा कि इस संबंध में दो मई को मेरे पास पति-पत्नी आए थे। मैंने उसी समय रिपोर्ट दर्ज करने के निर्देश दिए और एक टीम थानागाजी के स्तर पर व एक टीम अलवर में बना दी, परंतु अभी तक आरोपी पकड़े नहीं जा सके हैं। वहीं दूसरी तरफ, आरोपियों द्वारा फोटो व वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल किए जाने से पीड़िता व उसका परिवार सदमे में है। वीडियो में आरोपियों के चेहरे साफ दिखाई दे रहे हैं। इस मामले में पुलिस के हाथ अभी तक खाली हैं।  चुनाव की वजह से मामला चार दिन तक छिपाए रखने पर थानेदार सरदार सिंह ने कहा कि महिला अनुसूचित जाति-जनजाति से है इसी लिए इसे किसी को बताया नहीं गया। आरोपियों के अभी तक पकड़ से बाहर रहने पर कहा कि हमने आरोपियों की तलाश के लिए टीमें बना दी हैं। दबिशें दी जा रही हैं। उन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।