कारोबार
समाचार ब्यूरो
चुनावी सीजन में 30 फीसद गिरा ट्रैवल्स कारोबार
Total views 26
ट्रैवल्स संचालकों का कहना है कि हालांकि अभी इन ऑफरों से भी मार्केट में कोई विशेष फर्क नहीं पड़ रहा है।

देश में लोकतंत्र का महापर्व मनाया जा रहा है यानी लोकसभा चुनाव हो रहा है। राजनीतिक पार्टियां ही नहीं, आम आदमी और व्यापारी वर्ग भी चुनावी गतिविधियों में मशगूल है। सभी का ध्यान चुनाव की ओर होने के कारण कारोबार पर भी इसका असर पड़ रहा है। यूं तो हर समर सीजन में ट्रैवल्स का कारोबार काफी जोर पकड़े रहता है, लेकिन इस साल अब तक ऐसा कुछ भी नजर नहीं आ रहा है। कारोबारियों के मुताबिक अब तक तो इसकी रफ्तार कम है।

ट्रैवल्स कारोबारियों का कहना है कि पिछले साल की अपेक्षा इस साल अब तक कारोबार में 30 फीसद तक गिरावट आई है। इसकी वजह यह है कि चुनाव के कारण गर्मियों की छुट्टियों में बाहर जाने वालों की संख्या में कमी आई है।

आमतौर पर गर्मियों की छुट्टियों में बाहर जाने वालों में कर्मचारी वर्ग होता है, लेकिन इस बार कर्मचारियों की ड्यूटी चुनाव में लगी है, इसलिए छुट्टियां मनाने के लिए आवागमन कम है। ट्रैवल्स के बड़े सीजन माने जाने के बाद भी आ रही इस गिरावट को देखते हुए इन दिनों विमानन कंपनियां भी ऑफर निकलने लगी हैं।

अपने ऑफर में कंपनियां फिर से निश्चित तारीख तक टिकट बुकिंग कराने पर काफी सस्ते फेयर में दो महीने या चार महीने बाद उड़ने का मौका दे रही हैं। ट्रैवल्स संचालकों का कहना है कि हालांकि अभी इन ऑफरों से भी मार्केट में कोई विशेष फर्क नहीं पड़ रहा है।

गर्मी के सीजन में घूमने के लिए बाहर जाने वालों में इस साल कमी आई है। हालांकि हवाई यात्रा में फ्लाइटें रोज फुल जा रही हैं। विशेषकर दिल्ली, मुंबई व भोपाल की फ्लाइटों पर ज्यादा असर नहीं है, क्योंकि यहां के लिए शेड्यूल इस तरह है कि जानाआना एक ही दिन में हो जाता है।