अध्यात्म
समाचार ब्यूरो
सावन की तीसरी सोमवारी-देवघर मंदिर में उमड़ा आस्था का केसरिया सैलाब
Total views 142
देर रात से ही मंदिर से मीलों लंबी लग गई थी श्रद्धालुओं की कतार श्रावणी मेला की तीसरी सोमवारी पर देवघर के बाबा मंदिर में आस्था का केसरिया सैलाब उमड़ पड़ा है।देर रात से ही तीसरी सोमवारी के पावन अवसर पर पवित्र कामना लिंग के जलार्पण के लिए श्रद्धालुओं की अप्रत्याशित भीड़ जुटने लगी थी।श्रावण शुक्ल पक्ष की द्वितीया और तृतीया दोनो तिथि और सोमवार के एक सुखद संयोग के कारण पवित्र द्वादश ज्योतिर्लिंग के जलार्पण का यह उत्तम अवसर माना जा रहा है।

 ऐसी मान्यता है कि सावन शुक्ल पक्ष की सोमवारी पर पवित्र द्वादश ज्योतिर्लिंग के जलार्पण से सभी मनोकामनाएं पूरी होती है।यही कारण है कि आज जलाभिषेक के लिए देवघर में श्रद्धालुओं की अप्रत्याशित भीड़ उमड़ी है।जानकारों के अनुसार  श्रावण मास के प्रत्येक सोमवार को समुद्र मंथन से अदभुत रत्न की प्राप्ति हुई थी।तीसरी सोमवारी को समुद्र मंथन से देवताओं को कौस्तुभ मणि की प्राप्ति हुई थी जो धन,वैभव और ऐश्वर्य का प्रतीक है।जानकारों के अनुसार ऐसी मान्यता है कि आज के दिन पवित्र द्वादश ज्योतिर्लिंग के जलाभिषेक से सभी मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है।अप्रत्याशित भीड़ को व्यवस्थित तरीक से जलार्पण कराने के लिए प्रशासन द्वारा भी पूरी व्यवस्था की गई है।इसके लिए प्रशासनिक स्तर पर रुट लाईन सहित मंदिर परिसर में व्यवस्था बनाये रखने के लिए अतिरिक्त पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गई है।आज दो लाख से अधिक श्रद्धालुओं द्वारा जलार्पण की उम्मीद की जा रही है-
देवघर से धनंजय भारती।